Tuesday, October 4, 2022

Buy now

आर्थिक तंगी दूर करने के लिए शुरू की ऑटो चलाना, अब अन्य महिलाओं को भी ड्राइविंग सीखा आत्मनिर्भर बना रही

हमारे देश में जो लोग महिलाओ को कमजोर समझते हैं आज उन लोगो के मुंह तोड़ जवाब देने के लिए हर महिला आत्मनिर्भर बन कर। खुद काम कर के कमा रही हैं अगर पहले की बात की जाएं तो महिलाओ को लोग चार दिवारी में रखना पसंद करते उन्हे बाहर जाकर कोई कार्य करने की अनुमति नहीं होती थी जिसके कारण वो हमेशा अपने पति पर निर्भर रहती थी लेकिन आज समाज ने अपनी सोच बदली है आज महिला हर वो काम कर रही जो एक आदमी करता हैं हर क्षेत्र में आगे बड़ कर मेहनत कर कर रहीं हैं एक महिला ही है जो अपनी नौकरी और अपने बिजनेस के साथ अपने घर को भी बेहद अच्छे तरीके से संभाल सकती हैं आज के समय में महिला आत्मनिर्भर बन कर किसी पे भी निर्भर नहीं होना चाहती क्युकी अब धीरे–धीरे महिला परुषो के साथ कंधा से कंधा मिला कर चलने लगीं है

हमने आज के समय में हर जगह परूषो के साथ खड़ी महिलाओ को ही देखते है अगर बिजनेस की बात की जाए तो आज महिला अपना बिजनेस भी चला रही है, यह तक हर वो काम कर रहीं है जिसे देख आप थोड़ा हैरान होंगे, हमने परूषो को ऑटो चलाते हुए तो देखा है लेकिन अब महिलाए भी ऑटो चला कर अपनी कमाई कर रही है,

आज हम आपको एक ऐसी ही महिला की कहानी से रूबरू करवाएंगे। जिनकी घर की आर्थिक स्थिति काफी कमजोर होने के कारण अपनी घर की स्थिति संभालने के लिए आत्मनिर्भर बन खुद कमा रहीं है साथ ही साथ ऐसी कही अन्य महिलाए जिन्हे पैसे की ओर सख्त जरूरत है उन्हे भी आत्मनिर्भर बना ऑटो सिखाती हैं।

जानते हैं इनका परिचय…

हम बात कर रहें है प्रमिला (Pramila), जो हरियाणा की निवासी है जिनके हौसले इतने बुलंद है की अपनी मेहनत से किसी भी निर्भर ना हो कर अपनी कमाई खुद कर रहीं है, यह महिला ऑटो चलाने का काम करती है और इनको ऑटो चलाते हुए 6 वर्ष बीत चुके है। जिसके चलते इन्हे ऑटो चलाने का काफी ज्ञान जो गया है। आज प्रमिला ने ये साबित कर दिया की आगे एक महिला कुछ चाहे तो वो सब कुछ कर सकती है जो नामुमकिन है।

यह भी पढ़ें:-पर्यावरण संरक्षण: जबलपुर के इस परिवार ने बिना पेड़ काटे बनाया 2 मंजिला घर, दूसरों को भी कर रहे प्रेरित

क्यों सुझा ऑटो चलाना…

जैसे की हम सब जानते हैं की आज के समय में महंगाई इतनी बड़ चुकी है की एक व्यक्ति से घर नही चल पता। जिसके कारण लोगो के घर की आर्थिक स्थित बेहद खराब होने लगती है और न चाहते हुए भी उन्हे वो काम करना पड़ता है जो कभी सोचा भी न हो। ठीक इसी तरह प्रमिला के घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं और जिससे ठीक करने के लिए इन्होंने कोई काम करने की सोची। सोच विचार कर इन्होंने ऑटो चलाने का सोचा।

हम सब जानते है की गुलाबी ऑटो जो चलते है वो महिलाओ के द्वारा चलाए जाते है ठीक इसी तरह भी प्रमिला ने गुलाबी ऑटो चलाना शुरू किया। शुरू में तो उन्हे कही दिक्कत का सामना करना पड़ा। धीरे–धीरे वे सब कुछ संभालती गई और कही महिलाओ ने भी उनका साथ देना शुरू किया। साथ ही साथ वो महिलाओ को आत्मनिर्भर बनाने के लिए उनको ऑटो चलाना सिखाने लगी। कही महिलाओ ने इनके साथ जुड़ कर खुद को आत्मनिर्भर बनाया और अपने परिवार के लिए कमाई करने लगी।

Auto Driver Pramila Giving Driving Training To Woman
महिलाओं को ऑटो चलाने की ट्रेनिंग दे रही ऑटो चालक प्रमिला

महिलाओ को चलाना सिखाया ऑटो….

प्रमिला जो आज खुद की कमाई खुद कर रही है और साथ ही साथ महिलाओ को आत्मनिर्भर बनाने का काम कर रही। क्युकी कही ऐसी महिलाएं जो आत्मनिर्भर बनाना चाहती है ऐसी महिलाओ को प्रमिला ऑटो चलाना सिखाती है उनका कहना है की वह 3 दिन में ऑटो चलाना सीखा सकती है वह अपनी टीम के साथ जगह जगह जा कर महिलाओ को आत्मनिर्भर बनने के लिए प्रेरित कर रही है और महिलाओ को ऑटो की ट्रेनिंग दे कर उन्हें अपनी कमाई खुद करने का साधन दे रही है।

दुनिया ने मारे ताने…

आपको बता दे की, प्रमिला का यहां तक का सफर काफी मुश्किल था क्युकी हमारा समाज महिलाओ को ऐसे ऑटो चलाना देख उन्हे काफी ताने मरने लगता लोगो का मानना है की महिलाए को सिर्फ रसोई में ही रहना चाहिए। लेकिन इतने ताने सुनने के बाद भी प्रमिला ने हार नहीं मानी और अपनी सारी मुश्किलों का सामना करके आगे चलती गई।

यह भी पढ़ें:-बिहार के इस चायवाले की दरियादिली, अपनी आधे से ज्यादा कमाई जरूरतमंदों की सेवा में लगा रहे हैं

उसी दुनिया ने की प्रशंसा….

प्रमिला का सफर काफी मुश्किलों भरा था क्युकी एक महिला के लिए ऑटो चलाना कोई आसान बात नही थी। लेकिन लोगो ने इनको नेक काम करते हुए देखा वे इनको देखा की ये किस तरह महिलाओ को आत्मनिर्भर बनने के लिए प्रेरित कर रही। यह सब देख लोग इनकी काफी प्रशंसा करने लगे । साथ ही साथ पुलिस कर्मियों ने भी इनका काफी हौसला बड़ाया और इनकी प्रशंसा की।

प्रियंका गांधी ने भी किया इनकी ऑटो में सफर….

प्रियंका गांधी जो कांग्रेस पार्टी से संबंधित है जब वह 2019 में अपने वोट के प्रचार के लिए रोहतक आई तो उन्होंने प्रमिला की ऑटो में बैठकर रोहतक का दौरा किया। जिसमे उन्होंने बताया की प्रियंका गांधी ने उनकी बेहद तारीफ की और उन्हें प्रेरित किया की वह बेहद ही नेक काम कर रही है।

प्रेरणा..

अगर हमारे समाज की महिला प्रमिला की तरह सोच रखने लगी । तो आज के समय हर महिला आत्मनिर्भर बन सकती है क्युकी आज के समय में कोई ऐसा काम नही जो नामुमकिन हो। इसलिए हर उस महिला को प्रमिला से प्रेरणा लेकर उसकी सोच की तरह किसी पे निर्भर ना हो कर अपनी कमाई खुद करनी चाहिए। जिसमे हम घर खर्च चला सके और अपने पति के साथ कंधा से कंधा मिला कर चल सके।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
- Advertisement -

Latest Articles