Thursday, September 29, 2022

Buy now

अद्भुत कला: सिर के बल साईकिल चलाकर इस युवक ने बनाया अनेकों रिकॉर्ड, इनकी तस्वीरें देख आंखों पर भरोसा नही होगा

यूं तो भारत में हुनरबाजों की कोई कमी नहीं है। हर कोई अपने अलग अंदाज में हुनर को दुनिया में प्रस्तूत करता है जिसे देखकर आंखें खुली की खुली रह जाती हैं। कभी कोई व्यक्ति अपने अभ्यास से स्टील मैन ऑफ़ इंडिया बन जाता है तो कभी कोई हैमर मैन।
इसी कड़ी में आज हम आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहें हैं जिन्होंने अपने करतब से सभी को हैरान कर दिया है।

कौन है वह शख्स?

हम जिस व्यक्ति की बात कर रहें हैं उसका नाम लक्ष्य जांगिड़ (Lakshay Jangid) है और वे राजस्थान (Rajasthan) के रहनेवाले हैं। लक्ष्य एक साइक्लिस्ट (Cyclist) हैं और अपने इस हुनर से उन्होंने कई रिकॉर्ड्स अपने नाम किया है

सिर के बल चलाते हैं साइकिल

आमतौर पर हम देखते हैं कि बच्चों से लेकर बड़ों तक साइकिल चलाने के शौकीन होते हैं। वहीं कुछ बेहद अनोखे अंदाज में साइकिलिंग करते हैं। लेकिन यदि कोई कहे एक शख्स ऐसा भी है जो सिर के बल साइकिल चलाता है तो शायद आपको इस बात पर विश्वास न हो और ये बात अटपटी लगे, लेकिन ये सच है। जी हां, लक्ष्य जांगिड़ एक ऐसे साइक्लिस्ट (Stunt Cyclist Lakshay Jangid) हैं जो साइकिल की सीट पर सिर रखकर साइकिल चलाते हैं।

साइकिल से स्टंट करने का कैसे आया आइडिया?

दरअसल, 14 वर्ष के उम्र में लक्ष्य अपनी 8 वीं कक्षा की परीक्षा देने के बाद वे पहाड़ के रास्ते वापस आ रहे थे, तभी उन्होंने एक व्यक्ति को साइकिल से स्टंट करते हुए देखा। उसी समय से उन्होंने साइकिल से स्टंट करने के फैसला लिया और धीरे-धीरे वे इसका प्रयास भी करने लगे। इस काम में उन्हें कई बार असफलता का स्वाद चखना पड़ा, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और मजबूत हौसले के साथ आगे बढ़ते रहे। (Stunt Cyclist Lakshay Jangid)

कई रिकॉर्ड्स कर चुके हैं अपना नाम

लक्ष्य (Stunt Cyclist Lakshay Jangid) लंबी दूरी तक भी अपने सिर के बल साइकिल चलाने का करतब दिखा चुके हैं। अपने इस अनोखे हुनर से कई रिकॉर्ड्स अपने नाम कर चुके हैं। बता दें कि लक्ष्य ने नाहरगढ़ फ़ोर्ट (NaharGarh Fort) से लेकर आमेर फ़ोर्ट (Amer Fort) तक लगभग 1.50 किलोमीटर की दूरी तक सिर के बल साइकिल चलाकर “इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स” (India Book of Records) और “लिमका बुक ऑफ रिकॉर्ड्स” (Limca Book of Records) में अपना नाम दर्ज करा चुके हैं। नाहरगढ़ से आमेर फ़ोर्ट तक के दूरी को उन्होंने सिर्फ 3 मिनट 11 सेकंड में पूरा किया था। इस रिकॉर्ड्स को बनाना सरल काम नहीं था क्योंकि सिर के बल साइकिल चलाते वक्त शरीर का पूरा वजन सिर पर ही होता है, जिससे हादसे होने का जोखिम रहता है।

M T Bstunt में बने पहले भारतीय

बता दें कि, लक्ष्य ने दो बार M T Bstunt (Mountain Bike Stunt) में भी अपने देश भारत का नाम रोशन किया है। लक्ष्य ने साल 2016 में 109 M T Bstunt राइडर्स को पछाड़ कर इस खिताब को हासिल करने वाले पहले भारतीय बनें। (First Indian World Champion in M T Bstunt) फिर वर्ष 2017 में उन्होंने M T Bstunt में हिस्सा लिया। इसमें लक्ष्य ने साइकिल से हेडस्टैंड फ्लिप (Headstand Flip) किया था। उनके इस हुनर को नए इनोवेशन के साथ ही “ट्रिक ऑफ द ईयर” (Trick Of The Year) का नाम दिया गया। (Stunt Cyclist Lakshay Jangid)

वाकई, लक्ष्य जांगिड़ का हुनर रिस्की और बेहद हैरान करनेवाला है। उन्होंने अपने करतब से यह साबित कर दिया कि एक बार मन में ठान लो मंजिल पाने से कोई नहीं रोक सकता है। उनके इस अद्भूत हुनर के लिए हम उनकी दिल से प्रशंशा करते हैं।

Shikha Singh
Shikha is a multi dimensional personality. She is currently pursuing her BCA degree. She wants to bring unheard stories of social heroes in front of the world through her articles.

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
- Advertisement -

Latest Articles