Wednesday, October 5, 2022

Buy now

पूरे इंटरनेट पर दिल्ली की ये पुरानी तस्वीरें नही मिलेंगी, ख़ाक छानकर आपके लिए ढूंढा गया है: देख लीजिए

दिल्ली देश की मौजुदा राजधानी और सरकार की तीनों इकाईयों की मुख्यालय है. ये शहर कभी राजवंशों की राजधानी हुआ करती थी, जिसने अपने मे 7 राजवंशों को समाहित कर लिया पर आज वही दिल्ली समय के साथ इतना बदल गई है कि देख के कहना मुस्किल है कि ये वही दिल्ली है जहा राजवंशों की राजधानी हुआ करती थी।

आज हम इतिहास के उसी पुराने तस्वीर को ढूंढने की कोशिश कर रहे हैं।

निज्जामुदीन औलिया का मकबरा.

Rare pictures of old delhi

सूफी काल का एक पवित्र दरगाह, हजरत निजामुद्दीन चिश्ती घराने के चौथे संत थे। हजरत साहब 92 वर्ष की आयु में प्राण त्यागे और उसी वर्ष उनके मकबरे का निर्माण आरंभ हो गया।

लाल किला.

Rare pictures of old delhi

दिल्ली का एक ऐतिहासिक, किलेबंद, इसे मुगल शासक शाहजहां ने अपनी राजधानी के रूप में चुना था। इस किले की लाल-लाल रंगों के कारण इसे लाल किला कहा जाता है। यह अपने सौंदर्य और भव्यता के कारण भारत के प्रमुख पर्यटन स्थलों में प्रमुख है।

तुलकाबाद किले का खंडहर.

Rare pictures of old delhi

तुलकाबाद एक ध्वस्त किया हुआ किला है, जो 6 किलोमीटर तक फ़ैला हुआ है। साथ ही यहां 10 से 15 मीटर ऊंची दीवारों का भी निर्माण किया गया है। जानकारों के अनुसार इस शहर में पहले कुल 52 प्रवेश द्वार थे, जिनमे से आज केवल 13 बचे हुए हैं। वर्तमान में ज्यादातर भाग घनी कांटेदार वनस्पतियों की वजह से दुर्गम है।

सफदरगंज का मकाबरा

Rare pictures of old delhi

सफदरगंज का मकाबरा का स्थापत्य हुमायूं मकबरे के ढांचे पर ही आधारित है। केन्द्रीय इमारत में एक बड़ा गुम्बद है, जो सफेद संगमरमर पत्थर से निर्मित है। शेष इमारत लाल बलुआ पत्थर से बनी है।

पुराना किला

Rare pictures of old delhi
Rare pictures of old Delhi

यमुना नदी के किनारे स्थित प्राचीन दीना-पनाह नगर का आंतरिक किला है। इस किले का निर्माण शेर शाह सूरी ने अपने 1540 से 1545 के बीच करवाया था।

कश्मीरी गेट स्थित Saint James Church

Rare pictures of old Delhi

दिल्ली में स्थित एक एंग्लिकन गिरजाघर है। यह दिल्ली के कश्मीरी दरवाजा क्षेत्र के निकट ही स्थित है। यह भारत के प्राचीनतम गिरजाघरों में से एक है।

कश्मीरी गेट

Rare pictures of old Delhi

दिल्ली के लाल किले के निकटस्थ पुराने दिल्ली शहर का एक उतर मुखी द्वार हुआ करता था। वर्तमान मे यह उतरी दिल्ली का एक मोहल्ला है जो पुरानी दिल्ली क्षेत्र में आता है।

कश्मीरी गेट स्थित एक गुमनाम मस्जिद

Rare pictures of old Delhi

फिरोज शाह कोटला स्थित अशोक स्तंभ

Rare pictures of old Delhi

फिरोज शाह कोटला या कोटला सुल्तान फिरोज शाह तुगलक द्वारा बनाया गया एक किला था, जिसे फिरोजाबाद कहा जाता था.

जामा मस्जिद

Rare pictures of old Delhi
Rare pictures of old Delhi

यह मसजिद लाल पत्थरों और संगमरमर से बना है। लाल किले से महज 500 मी. की दूरी पर स्थित है जो भारत की सबसे बड़ी मसजिद है।

चौसठ खंभा

Rare pictures of old Delhi

यह नई दिल्ली, भारत में सूफी मुस्लिम मंदिरों और मकाबरों के निजामुद्दीन इलाके में स्थित है। नाम का अर्थ उर्दू और हिंदी में “64 स्तंभ” है।

1857 की क्रांति के बाद की कॉलेज बिल्डिंग

Rare pictures of old Delhi

1857 की क्रांति के बाद हिंदू राव का घर

Rare pictures of old Delhi

राजा हिंदू राव एक मराठा ठाकुर थे। वे ग्वालियर के महाराजा दौलत राव सिंधिया के भाई थे। उनका घर1857 की विद्रोह दौरान दिल्ली में एक बड़ी लड़ाई का दृश्य था जिसे बाद में उनके नाम पर अस्पताल में तब्दील कर दिया गया।

दिल्ली में स्थित कुव्वत उल इस्लाम मस्जिद

Rare pictures of old Delhi

कुव्वत उल इस्लाम मस्जिद दिल्ली में कुतुब मीनार के पास स्थित है। इसका निर्माण सन 1992 ई. में गुलाम वंश के प्रथम शासक कुतुब-उद-दीन ऐबक ने करवाया था। इस मस्ज़िद के निर्माण होने में पूरे चार साल का समय लगा था।

कुतुब मीनार

Rare pictures of old Delhi

विश्व के सबसे ऊंची मीनार, “कुतुब मीनार” है। यह दिल्ली के महरौली में स्थित है। कुतुब मीनार की ऊंचाई 72.5 मीटर है।

हुमायूं और बाबर का मकबरा

Rare pictures of old Delhi

हुमायूं और बाबर का मकबरा यह मक़बरा नई दिल्ली के पुराने किले के निकट निजामुद्दीन पूर्व क्षेत्र में मथुरा मार्ग के निकट स्थित है। इस मकबरे में हुमायूं के कब्र सहित अन्य कई राजसी लोगों के भी कब्रें स्थापित है। यह मकबरा विश्व के धरोहरों में शामिल है।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
- Advertisement -

Latest Articles