Thursday, September 29, 2022

Buy now

इंजीनियर की नौकरी छोड़कर शुरू की UPSC की तैयारी, 126वां रैंक लाकर बनी IAS अधिकारी: Sarjana Yadav

हर युवा का सपना होता है कि वह आगे चलकर एक सफल इंसान बन सके। इसके लिए वह जी तोड़ मेहनत करते हैं। जो युवा अपने सपने को साकार करने के लिए अपने मंजिल तक पहुंचने के लिए मेहनत और लगन के साथ निरंतर प्रयास करते रहते हैं उन्हें अंततः सफलता जरुर हासिल होती है।

यूपीएससी परीक्षा देश की सबसे कठिन परीक्षा में से एक है। इस परीक्षा को पास करने के लिए विद्यार्थी को काफी मेहनत और लगन की जरुरत होती है। हर साल यूपीएससी की परीक्षा में लाखों युवा शामिल होते हैं परंतु इनमें से कुछ ही युवा होते हैं जो अपने सपने को साकार कर पाते हैं। परंतु कुछ युवाओं को निराशा ही लौटना पड़ता है लेकिन एक बात जरूर याद रखना चाहिए कि उन्हें हार नहीं माननी चाहिए और निरंतर प्रयास करते रहना चाहिए।

आज हम एक ऐसे महिला के बारे में बताएंगे जिनका सपना आईएएस बनने का था। इन्होंने अपनी सपने को साकार करने के लिए इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़कर यूपीएससी की तैयारी की और अपने सपने को साकार कर आज वे एक आईएएस अधिकारी बन गए हैं।

यह भी पढ़ें:-गुलाबी रंग का ड्रैगन फ्रूट जो सेहत के लिए है बहुत फायदेमंद, जानिए उसकी खेती और गुणों के बारे में

IAS सरजना यादव (Sarjana Yadav)

सरजना यादव (Sarjana Yadav) का सपना था कि वह एक आईएएस अधिकारी के रूप में अपनी जिंदगी व्यतीत करें और लोगों की मदद करें। दिल्ली टेक्निकल यूनिवर्सिटी से इंजीनियरिंग की पढाई की। पढ़ाई पूरी होने के बाद इन्होंने टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया मेक रिसर्च अफसर के पद पर ज्वाइन किया। इस नौकरी से वह संतुष्ट नहीं थी और उनके मन में हर वक्त ख्याल आता था कि वह यूपीएससी की तैयारी करके अपने सपने को पूरा करें। इसलिए इन्होंने नौकरी करते दौरान यूपीएससी की तैयारी करनी शुरू कर दी।

नौकरी करते वक्त इन्हें उतना समय नहीं मिल पाता था कि वह यूपीएससी की तैयारी मन से कर पाएं परंतु इन्होंने फिर भी हार नहीं माने और निरंतर प्रयास करते रहे। जिसके बाद इन्होंने यूपीएससी का एग्जाम दिया परंतु वह असफल रही। सरजना यादव ने इस असफलता को नजरअंदाज कर के फिर से तैयारी शुरू कर दी परंतु दूसरी बार भी इन्हीं असफलता ही हाथ लगी।

दूसरी बार असफल होने के बाद दिन लगा कि नौकरी करते हुए यूपीएससी की तैयारी नहीं हो पाएगी जिसके बाद इन्होंने साल 2018 में नौकरी छोड़ दी और पूर्णरूपेण से यूपीएससी की तैयारी में जुट गई। मेहनत और लगन से यह तैयारी करने लगीं। साल 2019 में इन्होंने फिर से यूपीएससी का परीक्षा दिया और इस परीक्षा में वह 126वां रैंक हासिल कर अपने सपने को साकार किया।

बिना कोचिंग के सफलता हासिल की

सरजना यादव (Sarjana Yadav) ने UPSC की तैयारी के लिए कोई कोचिंग या फिर कोई ट्यूशन नहीं ली। इन्होंने अपनी तैयारी सेल्फ स्टडी से ही की। और कभी-कभी इंटरनेट माध्यम से अपनी पढ़ाई पूरी करते थे। यह बताते हैं कि अगर कोई विद्यार्थी जो यूपीएससी की तैयारी कर रहे हैं और लगता है कि उन्हें गाइडेंस की जरुरत है तब वह कोचिंग या ट्यूशन कर सकते हैं। परंतु मुझे ऐसा कुछ नहीं लगा इसलिए मैंने सेल्फ स्टडी करके ही यह सफलता हासिल की और आज मैं अपने सपने को साकार कर पाई हूं।

यह भी पढ़ें:-सितम्बर महीने में करें होम गार्डेनिंग तो पौधों का होगा बेहतर ग्रोथ, इन बातों का रखें ध्यान

UPSC युवाओं के तैयारी करने के टिप्स

सरजना यादव बताते हैं कि जो युवा यूपीएससी की तैयारी कर रहे हैं उन्हें एक एक बात को ध्यान में रखकर तैयारी करनी पड़ती है। जिससे वो यूपीएससी की तैयारी अच्छे से कर पाएं और अपने सपने को साकार कर सकें।

1.इसके लिए उन्हें सबसे पहले अपनी सिलेबस पर ध्यान देना चाहिए क्योंकि यूपीएससी की तैयारी में सिलेबस काफी ज्यादा होती है और इसमें समय काफी कम मिलता है। इसी कम समय में सभी सिलेबस को तैयार करना काफी कठिन होता है। इसलिए उन्हें अपने विषय के कोई अच्छी सी किताब पढ़ इसके साथ-साथ आप ऑनलाइन या फिर इंटरनेट की सुविधा ले सकते हैं। इससे आपको तैयारी करने में काफी मदद मिलेगी और आप अच्छे से तैयार कर पाएंगे।

2.दूसरी सबसे अहम बात यह कि अगर आप यूपीएससी के छात्र हैं तो अपनी पढ़ाई पर काफी फोकस देनी चाहिए। आप कितने भी घंटे पढ़ाई करें अगर पढ़ाई पर फोकस नहीं करेंगे तो असफलता ही हाथ लगेगी। करेंट अफेयर्स की तैयारी करने के लिए प्रतिदिन अखबार पढ़नी चाहिए इसके साथ-साथ उन्हें ऑनलाइन डेली न्यूज़ पर आधारित MCQ सॉल्व करनी चाहिए।

3.सरजना यादव बताती हैं कि मैं जब तैयारी कर रही थी तब मैं उन्हीं विषय के नोट तैयार किए जिसने मुझे समझना काफी मुश्किल हो रहा था। अगर आप को किसी विषय में समझना मुश्किल हो रहा है तो आप उसके नोट्स बना कर उसकी तैयारी कर सकते हैं। इसके साथ-साथ मॉक टेस्ट विद्यार्थियों के लिए काफी खास होता है और यह मॉक टेस्ट सभी विद्यार्थियों को देना आवश्यक होती है। यह टेस्ट परीक्षार्थियों को तैयार करने में मदद करती है।

यह भी पढ़ें:-कमल के पौधे को घर में लगाने के लिए क्या-क्या करना होगा, यहां जान लें पूरा तरीका

सरजना यादव ने यूपीएससी की तैयारी कर रहे युवाओं को यह टिप्स बताएं हैं जिससे युवा अपना परीक्षा की तैयारी सही से कर सके और अपनी सपने को साकार कर सकें।

प्रेरणा

सरजना यादव (Sarjana Yadav) से हम लोगों को यह प्रेरणा मिलती है कि अगर हम अपने काम में मेहनत और लगन के साथ करते रहें और इसने निरंतर प्रयास करते रहें तो आखिरकार सफलता जरुर हासिल होती है।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
- Advertisement -

Latest Articles