Wednesday, October 5, 2022

Buy now

6 साल में 12 सरकारी नौकरी छोड़ी और IPS बने, एक किसान के बेटे ने इतिहास रच डाला: IPS प्रेमसुख डेलू

हमारे देश मे आजकल सबसे बड़ा मुद्दा बेरोजगारी है।ज्यादातर युवा अच्छे-अच्छे पढ़ाई करके आज नौकरी नही मिलने के कारण घर मे असहाय बैठे है, लेकिन कुछ ऐसे भी है जिन्होंने कम समय मे भी बड़े-बड़े मुकाम हासिल किया है। आज हम आपको ऐसे ही शख्स की कहानी बनाने वाले है, जिन्होंने अपने मेहनत और लगन के बदौलत मात्र 6 सालों में 9 सरकारी नौकरियां प्राप्त की।

कौन है वो शख्स?

हम बात कर रहे है, राजस्थान (Rajasthan) के 31 वर्षीय प्रेम सुख डेलू (IPS Prem Sukh Delu) की, जो अभी गुजरात के अमरेली जिले में प्रोबेशनर असिस्‍टेंट सुपरीटेंडेंट ऑफ पुलिस(ASP) के पद पर कार्यरत हैं। इन्होंने 6 वर्षों में 9 सरकारी नौकरियां हासिल की। इन 9 सरकारी नौकरियों में पटवारी से सब-इंस्‍पेक्‍टर, जेलर, प्राइमरी टीचर, कॉलेज का लेक्‍चरर और राज्‍य सरकार का रेवेन्‍यू ऑफिसर आदि नौकरियां शामिल है। ―Son of a farmer from Rajasthan got 9 government jobs in just 6 years.

किसान का बेटा बना आईपीएस अधिकारी

प्रेम सुख (IPS Prem Sukh Delu) ने अपनी मंजिल को पाने के लिए अपने जीवन मे बहुत संघर्ष किया है। इन्होंने यह साबित कर दिया कि अगर इंसान ठान ले तो असंभव को भी संभव कर सकता है। मन मे मंजिल पाने के लिए जुनून हो तो कोई भी बाधा आपके रास्ते मे नही आएगी। इनके पिता पेशे से एक किसान है तथा उनका परिवार राजस्थान के बीकानेर में खेती करता था। इनके माता-पिता ज्यादा पढ़े-लिखे नही थे। प्रेम सुख अपने चार भाई बहनों में सबसे छोटे है। इनके बड़े भाई राजस्‍थान पुलिस में कांस्‍टेबल पद पर कार्यरत हैं, जिनसे इन्हें प्रतियोगिता परीक्षाओं में बारे बहुत ज्ञान मिला तथा उन्होंने हमेशा इनको पढ़ाई के लिए प्रेरित किया। ―Son of a farmer from Rajasthan got 9 government jobs in just 6 years.

बचपन से की सपना था सरकारी अफसर बनने का

प्रेम सुख का बचपन से ही सपना था कि वो बड़े होकर एक काबिल सरकारी अफसर बने। इन्होंने अपने एमए की पढ़ाई इतिहास विषय से पूरी की तथा उसके बाद सरकारी नौकरी की तैयारी में जुट गए। वर्ष 2010 में उन्हें पटवारी की नौकरी प्राप्त हुई लेकिन इसके बाद भी प्रेम में अपनी पढ़ाई नही छोड़ी, रोजाना वह पांच घंटे की पढ़ाई करते थे और एक के बाद एक सरकारी परीक्षाएं (government exams) क्रैक कर लीं। ―Son of a farmer from Rajasthan got 9 government jobs in just 6 years.

नौकरी मिलने के बाद भी पढ़ाई रखी जारी, लगातार एक के बाद एक सरकारी नौकरियां की हासिल

प्रेम सुख (IPS Prem Sukh Delu) ने जिस साल पटवारी की नौकरी प्राप्त की, उसी साल उन्होंने ग्राम सेवक की परीक्षा पास की तथा असिस्‍टेंट जेलर (assistant jailor) की परीक्षा में टॉप किया। वर्ष 2011 में उन्होंने प्राइमरी और सेकेंडरी टीचर की परीक्षा पास की। वर्ष 2013 तक उन्होंने दो और सरकारी नौकरियों की परीक्षा में सफलता प्राप्त की, जिसमे पहली राजस्‍थान पुलिस में सब-इंस्‍पेक्‍टर और दूसरी हायर सेकेंडरी में शिक्षक की परीक्षा में सफलता हासिल की तथा उसके एक साल बाद उन्होंने B.Ed की परीक्षा पास की और उसी साल नेट (NET) एग्‍जाम क्‍लीयर कर कॉलेज लेक्‍चरर (college lecturer) बन गए। उसके बाद भी उनके सफर का अंत नही हुआ, तथा वो राज्‍य लोक सेवा आयोग की तैयारी में जुट गए, लेकिन परीक्षा में कम अंक होने के वजह से रेवेन्‍यू सर्व‍िस (revenue services) मिली तथा इसके बाद UPSC की तैयारी में जुट गए औऱ वर्ष 2015 में UPSC की परीक्षा दी। प्री एग्जाम निकलने में बाद हिंदी विषय से मुख्य परीक्षा दी और उसमें 170वां रैंक प्राप्त की तथा वर्ष 2016 में आईपीएस अधिकारी(IPS Officer) बन गए। ―Son of a farmer from Rajasthan got 9 government jobs in just 6 years.

सभी नौकरियों के दौरान कुछ न कुछ सीखने को मिला

प्रेम सुख (IPS Prem Sukh Delu) ने बताया कि, सभी नौकरियों के दौरान उन्हें कुछ न कुछ सीखने को मिला तथा समाज को भी समझने में काफी मदद मिली। उन्होंने बताया कि, “पुलिस कर्मियों की क्‍या परेशानियां है उस बात का अंदाजा मुझे असिस्‍टेंट जेलर (assistant jailor) और सब-इंस्‍पेक्‍टर बनने के बाद पता चली तथा जमीन और संपत्ति से संबंधित मामले सुलझाने का अनुभव मुझे रेवेन्‍यू विभाग में काम करने के दौरान मिला और शिक्षा क्षेत्र में काम करने के दौरान समाज में प्रेम को अपराधों और समाज को अधिक कुशलता से समझने में मदद मिली।”

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
- Advertisement -

Latest Articles